Indian Smartphone Company Lava Design In India Contest Start Against Made In China Product – खुशखबरी: Lava दे रहा है मोबाइल डिजाइन करने का मौका, मिलेगा 50,000 रुपये का इनाम

4


पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

<!-- Composite Start --> <div id="M543372ScriptRootC944389"> </div> <script src="https://jsc.mgid.com/p/r/primehindi.com.944389.js" async></script> <!-- Composite End -->
भारत-चीन सीमा विवाद के बाद से ही चीनी स्मार्टफोन का बहिष्कार किया जा रहा है। साथ ही फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ‘बॉयकॉट चाइन प्रोडक्ट’ अभियान चलाए जा रहे हैं। इस ही बीच भारतीय स्मार्टफोन निर्माता कंपनी लावा (Lava) ने ‘Design In India’ नाम की प्रतियोगिता आयोजित की है, जिसमें देश के इंजिनियरिंग के छात्र और प्रोफेशनल हिस्सा ले सकेंगे। इस प्रतियोगिता में छात्र और प्रोफेशनल्स को स्मार्टफोन डिजाइन करना होगा।

 

लावा की प्रतियोगिता की रजिस्ट्रेशन शुरू हो गई है, जो 9 जुलाई तक चलेगी। छात्र और प्रोफेशनल तीन सदस्यों की टीम बनाकर इस प्रतियोगिता में हिस्सा ले सकते हैं। जीतने वाली टॉप-3 टीमों को लावा में प्लेसमेंट के साथ 50,000 रुपये, 25 रुपये और 15,000 रुपये का इनाम मिलेगा। खास बात यह है कि इस प्रतियोगिता में लावा की स्मार्टफोन डिजाइन टीम सभी छात्रों और प्रोफेशनल को मॉनिटर करेगी।

कंपनी के मुताबिक, प्रतियोगिता को तीन अलग-अलग हिस्सों में आयोजित किया जाएगा, जिसमें प्रोटोटाइप तैयार करने के साथ-साथ प्रेजेंटेशन और स्मार्टफोन डिजाइन करना शामिल है। वहीं, चीफ मैन्युफैक्चरिंग ऑफिसल संजीव अग्रवाल का कहना है कि बीते कई वर्षों में यह प्रतियोगिता हमारी ताकत बनी है। इससे हमें फोन बनाने के लिए नए-नए आइडिय मिले हैं। साथ ही यह समझने को भी मिला है कि यूजर्स अपने डिवाइस किस तरह के फीचर्स चाहते हैं।

सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन 59 एप्स को ब्लॉक करने का निर्णय लिया था क्योंकि ये एप भारत की संप्रभुता और अखंडता, भारत की रक्षा, राज्य की सुरक्षा और सार्वजनिक व्यवस्था के लिए खतरा थे। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को विभिन्न स्रोतों से इन एप्स को लेकर कई शिकायतें मिली थी, जिनमें कई मोबाइल एप के दुरुपयोग की बाते थी। ये एप आईफोन और एंड्रॉयड दोनों यूजर्स का डाटा चोरी कर रहे थे।

टिकटॉक- TikTok, शेयरइट- Shareit,  कवाई- Kwai, यूसी ब्राउजर- UC Browser, बायडू मैप- Baidu map, शेन- Shein, क्लैश ऑफ किंग्स- Clash of Kings, डीयू बैटरी सेवर- DU battery saver, हेलो- Helo, लाइकी- Likee, यूकैम मेकअप- YouCam makeup, एमआई कम्युनिटी- Mi Community, सीएम ब्राउजर- CM Browers, वायरस क्लिनर- Virus Cleaner, आपुस ब्राउजर- APUS Browser, रोमवी- ROMWE, क्लब फैक्ट्री- Club Factory, न्यूजडॉग- Newsdog, ब्यूटी प्लस- Beutry Plus, वीचैट- WeChat, यूसी न्यूज- UC News, क्यूक्यू मेल- QQ Mail, वीबो- Weibo समेत 59 एप्स पर प्रतिबंध लगाए गए हैं।

सार

  • लावा ने ‘Design In India’ प्रतियोगिता की शुरुआत की
  • इंजिनियरिंग के छात्र और प्रोफेशनल ले सकेंगे हिस्सा
  • प्रतियोगिता में स्मार्टफोन करना होगा डिजाइन

विस्तार

भारत-चीन सीमा विवाद के बाद से ही चीनी स्मार्टफोन का बहिष्कार किया जा रहा है। साथ ही फेसबुक और ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर ‘बॉयकॉट चाइन प्रोडक्ट’ अभियान चलाए जा रहे हैं। इस ही बीच भारतीय स्मार्टफोन निर्माता कंपनी लावा (Lava) ने ‘Design In India’ नाम की प्रतियोगिता आयोजित की है, जिसमें देश के इंजिनियरिंग के छात्र और प्रोफेशनल हिस्सा ले सकेंगे। इस प्रतियोगिता में छात्र और प्रोफेशनल्स को स्मार्टफोन डिजाइन करना होगा।

 


आगे पढ़ें

लावा की प्रतियोगिता की रजिस्ट्रेशन हुई शुरू



Source link