Engineering, Medical Colleges New Session May Start From November And December – इंजीनियरिंग, मेडिकल कॉलेजों में नवंबर और दिसंबर से शुरू हो सकता है नया सत्र

6


एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sat, 04 Jul 2020 03:54 AM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

<!-- Composite Start --> <div id="M543372ScriptRootC944389"> </div> <script src="https://jsc.mgid.com/p/r/primehindi.com.944389.js" async></script> <!-- Composite End -->

ख़बर सुनें

कोरोना संकट के बीच इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज का नया सत्र नवंबर में जबकि आईआईटी और एनआईटी में यह दिसंबर तक शुरू होने की संभावना है। इस देरी के कारण केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय एमबीबीएस और बीडीएस में दाखिले के लिए राज्यों के साथ चर्चा कर नया शेड्यूल तैयार किया जाएगा। वहीं, आईआईटी और एआईसीटीई समेत राज्यों के विश्वविद्यालयों को भी नए सिरे से तैयारी करनी होगी।

एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) एक से छह सितंबर तक जेईई मेन की परीक्षा आयोजित करेगी और नतीजे 10 या 11 सितंबर तक जारी होंगे। इसके बाद देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक प्रोग्राम में दाखिला और सीट अलॉटमेंट के लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया शुरू होगी।

सितंबर से अक्तूबर तक ऑनलाइन सीट अलॉटमेंट होगा। यदि कोई सीट खाली रहती है तो नवंबर में स्पॉट राउंड आयोजित होंगे। एनटीए 13 सितंबर को नीट आयोजित करेगा। नतीजा तैयार होने में 15 से 20 दिन या ज्यादा भी लग सकता है। अक्तूबर के पहले हफ्ते तक नीट का नतीजा जारी होगा। इसके बाद काउंसलिंग में एक महीने का वक्त लगेगा।

आईआईटी में 7 के बजाय 5 काउंसलिंग राउंड
वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, आईआईटी दिल्ली बीटेक दाखिले के लिए 27 सितंबर को जेईई एडवांस्ड परीक्षा आयोजित करेगा। एक हफ्ते बाद नतीजा तैयार कर लिया जाएगा। इसके बाद आईआईटी और एनआईटी में दाखिले के लिए काउंसलिंग शुरू होगी। दाखिला प्रक्रिया जल्द पूरी करने के लिए इस बार आईआईटी में 7 के बजाय 5 राउंड की काउंसलिंग होगी।

कोरोना संकट के बीच इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेज का नया सत्र नवंबर में जबकि आईआईटी और एनआईटी में यह दिसंबर तक शुरू होने की संभावना है। इस देरी के कारण केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय एमबीबीएस और बीडीएस में दाखिले के लिए राज्यों के साथ चर्चा कर नया शेड्यूल तैयार किया जाएगा। वहीं, आईआईटी और एआईसीटीई समेत राज्यों के विश्वविद्यालयों को भी नए सिरे से तैयारी करनी होगी।

एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) एक से छह सितंबर तक जेईई मेन की परीक्षा आयोजित करेगी और नतीजे 10 या 11 सितंबर तक जारी होंगे। इसके बाद देशभर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बीटेक प्रोग्राम में दाखिला और सीट अलॉटमेंट के लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया शुरू होगी।

सितंबर से अक्तूबर तक ऑनलाइन सीट अलॉटमेंट होगा। यदि कोई सीट खाली रहती है तो नवंबर में स्पॉट राउंड आयोजित होंगे। एनटीए 13 सितंबर को नीट आयोजित करेगा। नतीजा तैयार होने में 15 से 20 दिन या ज्यादा भी लग सकता है। अक्तूबर के पहले हफ्ते तक नीट का नतीजा जारी होगा। इसके बाद काउंसलिंग में एक महीने का वक्त लगेगा।

आईआईटी में 7 के बजाय 5 काउंसलिंग राउंड
वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, आईआईटी दिल्ली बीटेक दाखिले के लिए 27 सितंबर को जेईई एडवांस्ड परीक्षा आयोजित करेगा। एक हफ्ते बाद नतीजा तैयार कर लिया जाएगा। इसके बाद आईआईटी और एनआईटी में दाखिले के लिए काउंसलिंग शुरू होगी। दाखिला प्रक्रिया जल्द पूरी करने के लिए इस बार आईआईटी में 7 के बजाय 5 राउंड की काउंसलिंग होगी।



Source link