59 चीनी ऐप्स पर बैन के बाद पीएम मोदी ने लॉन्च किया ये चैलेंज, देसी ऐप्स को ​मिलेगा बढ़ावा | tech – News in Hindi

50


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

<!-- Composite Start --> <div id="M543372ScriptRootC944389"> </div> <script src="https://jsc.mgid.com/p/r/primehindi.com.944389.js" async></script> <!-- Composite End -->

पीएम मोदी ने देश में ऐप इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए आत्मनिर्भर भारत इनोवेशन चैलेंज का ऐलान किया है. उन्होंने देश में स्टार्ट-अप्स और टेक को ऐसे घरेलू ऐप तैयार करने को कहा जो विश्वस्तरीय हों. इसके लिए सरकार भी मदद करेगी.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शनिवार को आत्मनिर्भर भारत इनोवेशन चैलेंज (Atmnirbhar Bharat Innovation Challenge) को लॉन्च किया है. इसके साथ ही उन्होंने देश के टेक एंड स्टार्टअप कम्युनिटी से आह्वाहन भी किया कि वो इसमें भाग लें और देश को आत्मनिर्भर ऐप इकोसिस्टम के रूप में तैयार करें. Linkedin पर टेक प्रोफेशनल्स को संंबोधित करते हुए पीएम मोदी ने यह बात कही है.

पीएम मोदी ने कहा, ‘आज पूरा देश आत्मनिर्भर भारत बनने की दिशा में काम कर रहा है. यह सही मौका है कि हम देश के स्टार्ट-अप और टेक इकोसिस्टम को नये तरीके से इनोवेट, डेवलप और प्रोमोट करें. इन स्टार्टअप्स की कड़ी मेहनत और इनके टैलेंट के मेंटरशिप की मदद से हम ऐसे ऐप तैयार करने में सफल हो सकते हैं जो बाजार की मौजूदा जरूरत को पूरा करे और विश्व से प्रतिस्पर्धा कर सके.’

यह भी पढ़ें:पंजाब नेशनल बैंक ने किया बड़ा ऐलान, सीनियर सिटीजन को मिलेंगी ये ख़ास सुविधाएं

आत्मनिर्भर भारत इनोवेशन चैलेंज को इले​क्ट्रॉनिक्स एंड इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय (Ministry of Electronics and IT) द्वारा रेग्युलेट किया जाएगा. इसके साथ ही अटल इनोवेशन मिशन (Atal Innovation Mission) भी जारी रहेगी. इस पर दो तरीकों से काम किया जाएगा. पहला तो यह कि मौजूदा ऐप्स को प्रोमोट किया जाए और नये ऐप्स को ​भी विकसित किया जाए.>> पहले तरीके के तहत सरकार मिशन मोड के स्तर पर काम करेगी ताकि लीडर बोर्ड के लिए बेहतर क्वॉलिटी के ऐप्स को चिन्हित किया जा सके. इसके करीब 1 महीने में पूरा कर लिया जाएगा.

>> वहीं, दूसरे तरीके के तहत भारत में नये चैंपियंस तैयार किया जाएगा. इसके लिए नये इनोवेटर्स को आइडिएशन, इनक्युबेशन, प्रोटोटाइपिंग और बाजार तक पहुंचाने में मदद की जाएगी.

यह भी पढ़ें: SBI ATM से कैश निकालने के लिए OTP की होगी जरूरत, जानिए क्या है नया नियम

इन सबके अतिरिक्त भी केंद्र सरकार मौजूदा ऐप्स को प्रोमोट करने के​ लिए केंद्र सरकार सभी प्लेटफॉर्म्स पर प्रोमोट करने में मदद करेगी. इसमें ई-लर्निंग , वर्क फ्रॉम होम, गेमिंग, बिजनेस, एंटरटेनमेंट, ऑफिस यूटिलिटीज और सोशल नेटवर्किंग जैसे प्लेटफॉर्म्स होंगे.

First published: July 4, 2020, 5:35 PM IST





Source link