अमृतसर रेल हादसे की जांच रिपोर्ट में नगर निगम के चार अफसरों को आरोपी बनाया गया

26





अमृतसर रेल हादसे से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। रिटायर्ड जज अमरजीत सिंह कटारी ने अपनी रिपोर्ट पंजाब सरकार को भेज दी है। लगभग 21 महीने की जांच के बाद जारी इस रिपोर्ट में नगर निगम के चार अधिकारियों को आरोपी बताया गया है। रिपोर्ट में इन आरोपियों का कड़ी सजा देने की सिफारिश की गई है।जस्टिस कटारी ने इन सभी आरोपियों से 15 दिन में अपना स्पष्टीकरण देने के लिए कहा है। अगर इस दौरान आरोपियों ने अपना जवाब सरकार को नहीं भेजा तो समझा जाएगा कि वह अपने बचाव में कुछ नहीं कहना चाहते।

दरअसल, अमृतसर में 19 अक्टूबर 2018 को जोड़ा फाटक के पास स्थित धोबी घाट में आयोजित दशहरा महोत्सव को देखने के लिए हजारों की भीड़ जुटी थी। ग्राउंड में जगह कम होने की वजह से भीड़ रेलवे ट्रैक पर खड़ी हो मेले का आनंद ले रही थी, लेकिन एकाएक त्यौहार की खुशी चीख-पुकार में बदल गई। हुआ यूं कि एक डीएमयू ट्रेन मेला देख रही भीड़ को रौंदती हुई निकल गई। इस हादसे में 65 लोगों की मौत हो गई थी, वहीं बहुत सारे लोग जख्मी हो गए थे।
मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दिए थे, वहीं रेलवे ने भी अपने लेवल पर घटना की जांच करवाई। जालंधर डिवीजन के कमिश्नर बी पुरुषार्थ के नेतृत्व में जांच कमेटी ने जांच के बाद रिपोर्ट में 6 पुलिस वालों और अमृतसर नगर निगम के 7 अफसरों के खिलाफ चार्जशीट की सिफारिश की थी।
अब शुक्रवार को इसी मामले में लगभग 21 महीने बाद रिटायर्ड जज अमरजीत सिंह कटारी ने अपनी रिपोर्ट पंजाब सरकार को भेज दी है।रिपोर्ट में नगर निगम के चार अधिकारियों को आरोपी बताया गया है। रिपोर्ट में इन आरोपियों कोकड़ी सजा देने की सिफारिश की गई है। वहीं जस्टिस कटारी ने इन सभी आरोपियों से 15 दिन में अपना स्पष्टीकरण देने के लिए कहा है। अगर इस दौरान आरोपियों ने अपना जवाब सरकार को नहीं भेजा तो समझा जाएगा कि वह अपने बचाव में कुछ नहीं कहना चाहते। इन सभी निगम अधिकारियों पर ड्यूटी के दौरान लापरवाही से काम करने के आरोप हैं।

<!-- Composite Start --> <div id="M543372ScriptRootC944389"> </div> <script src="https://jsc.mgid.com/p/r/primehindi.com.944389.js" async></script> <!-- Composite End -->

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


अमृतसर रेल हादसे की फाइल फोटो, जिसमें काफी लोगों की मौत हो गई थी।



Source link